Govt of Mauritius विश्व हिंदी सचिवालय, मॉरीशस का प्रयास An endevour of World Hindi Secretariat, Mauritius Govt of India
विश्व हिंदी डेटाबेस World Hindi Database
हिंदी विद्वानों और संस्थाओं का वैश्विक डेटाबेस A global database of Hindi scholars and institutions
    Search
 
 
22 से 24 सितंबर, 2012 को जोहान्सबर्ग, दक्षिण अफ्रीका में आयोजित 9वें विश्व हिंदी सम्मेलन में विश्व हिंदी सचिवालय, मॉरीशस को विभिन्न देशों के हिंदी शिक्षण से संबद्ध विश्वविद्यालयों, पाठशालाओं एवं शैक्षिक संस्थानों तथा विश्व भर के हिंदी विद्वानों, लेखकों तथा हिंदी के प्रचार-प्रसार से संबद्ध लोगों आदि के एक वैश्विक डेटाबेस के निर्माण का दायित्व सौंपा गया था। तदनुसार सचिवालय ने विश्व हिंदी डेटाबेस और विशेषज्ञ खोज प्रणाली विकसित की है।
     
     
       
     
 
       
 
यह वेबसाइट सूचनाओं की खोज के साथ-साथ आपसी संपर्क और शैक्षणिक सहयोग का माध्यम है। विश्व स्तर पर विविध क्षेत्रों में सक्रिय हिंदी के विशेषज्ञों से जुड़ने के लिए विश्व हिंदी डेटाबेस की खोज सुविधाओं का लाभ उठाइए।  विशेषज्ञों तक पहुँचने के लिए यहाँ दी गई विभिन्न खोज प्रणालियों को आज़माइए। अधिक विवरण पाने तथा प्रत्यक्ष संपर्क करने के लिए खोज परिणामों पर क्लिक करें। विकसित खोज के लिए एक से अधिक पैमानों को आज़माकर देखिए।
 
रचनात्मक लेखन Education रंगमंच
शिक्षण Diaspora प्रकाशन
संपादन Publicity सृजनात्मक लेखन
डायस्पोरा Creative Writing सूचना प्रौद्योगिकी
आइसीटी Editing अमेरिका संबंधी विषय
पत्रकारिता Administration दक्षिण अफ़्रीका
भाषा Linguistics मॉरीशस
भाषा विज्ञान ICT उज़्बेकिस्तान
साहित्य अध्ययन Language ऑस्ट्रेलिया
कोशकारिता Lexicography डेनमार्क
प्रचार History नीदरलैंड
प्रशासन Pedagogy जॉर्जिया
नेपाल Media .. अधिक विकल्प देखें
 
 
 
 
उदय प्रकाशः (जन्म : १ जनवरी १९५२) चर्चित कवि, कथाकार, पत्रकार और फिल्मकार हैं। आपकी कुछ कृतियों के अंग्रेज़ी, जर्मन, जापानी एवं अन्य अंतरराष्ट्रीय भाषाओं में अनुवाद भी उपलब्ध हैं। लगभग समस्त भारतीय भाषाओं में रचनाएं अनूदित हैं। इनकी कई कहानियों के नाट्य रूपांतर और सफल मंचन हुए हैं। 'उपरांत' और 'मोहन दास' के नाम से इनकी कहानियों पर फीचर फिल्में भी बन चुकी हैं, जिसे अंतरराष्ट्रीय सम्मान मिल चुके हैं।  उदय प्रकाश स्वयं भी कई टी.वी.धारावाहिकों के निर्देशक-पटकथाकार रहे हैं। सुप्रसिद्ध राजस्थानी कथाकार विजयदान देथा की कहानियों पर बहु चर्चित लघु फिल्में प्रसार भारती के लिए निर्देशित-निर्मित की हैं। वे पंद्रह कड़ियों का सीरियल 'कृषि-कथा' राष्ट्रीय चैनल के लिए निर्देशित कर चुके हैं।  (स्रोतः विकीपीडिया)
 
नागरी प्रचारिणी सभाः यह हिंदी भाषा और साहित्य तथा देवनागरी लिपि की उन्नति तथा प्रचार और प्रसार करनेवाली भारत की अग्रणी संस्था है। भारतेन्दु युग के अनंतर हिंदी साहित्य की जो उल्लेखनीय प्रवृत्तियाँ रही हैं उन सबके नियमन, नियंत्रण और संचालन में इस सभा का महत्वपूर्ण योग रहा है। काशी नागरीप्रचारिणी सभा की स्थापना १६ जुलाई, १८९३ ई. को श्यामसुंदर दास जी द्वारा हुई थी। यह वह समय था जब अँगरेजी, उर्दू और फारसी का बोलबाला था। नागरीप्रचारिणी सभा की स्थापना क्वीन्स कालेज, वाराणसी के नवीं कक्षा के तीन छात्रों - बाबू श्यामसुंदर दास, पं॰ रामनारायण मिश्र और शिवकुमार सिंह ने कालेज के छात्रावास के बरामदे में बैठकर की थी।  (स्रोतः विकीपीडिया)
 
 
यदि आप भी भाषा, साहित्य, मीडिया, कला, तकनीक, कारोबार, विज्ञापन, प्रशासन आदि क्षेत्रों में हिंदी के प्रयोग में निष्णात् हैं या हिंदी से जुड़े किसी महत्वपूर्ण क्षेत्र में अग्रिम स्तर की शिक्षा उपलब्ध कराने में जुटे हैं तो विश्व हिंदी डेटाबेस से जुड़कर समग्र हिंदी वैश्विक मंच का हिस्सा बनिए। यदि आप हिंदी की संस्था चलाते हैं तो भी इस मंच से जुड़ना उपयोगी हो सकता है। विश्व हिंदी डेटाबेस की सदस्यता के लिए क्लिक करें।
     
       
                 
  विश्व हिंदी सचिवालय
(मॉरीशस सरकार और भारत सरकार की द्विपक्षीय संस्था)
स्विफ्ट लेन, फॉरेस्ट साइड, मॉरीशस।
ईमेलः
     db@vishwahindi.com
वेबसाइटः http://vishwahindidb.com
        World Hindi Secretariat

(A bilateral organisation of Govt of Mauritius and Govt of India)
Swift Lane, Forest Side, Mauritius
Email:    db@vishwahindi.com
website: http://vishwahindidb.com